Tuesday , May 17 2022

परमवीर चक्र विजेता वीर अब्दुल हमीद की धर्मपत्नी रसूलन वीवी का निधन

02 अगस्त 2019

गाजीपुर । जिले की शान परमवीर चक्र विजेता बीर अब्‍दुल हमीद की धर्मपत्‍नी रसूलन बीबी का निधन हो गया। रसूलन बीबी अपने दुल्‍लहपुर स्थित आवास पर अंतिम सांस ली। वह काफी समय से बीमार चल रही थी। वह 95 वर्ष की थीं । उनके निधन की जानकारी होने के बाद शोक संवेदनाओं का क्रम शुरू हो गया है और आवास पर लोगों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है।

दुल्‍लहपुर थाना क्षेत्र के धामुपुर गांव के रहने वाले परम वीर चक्र विजेता वीर अब्‍दुल हमीद 10 सितंबर 1965 को खेमकरण सेक्‍टर में पाकिस्तान से जंग लड़ते समय शहीद हो गये थे। वीर अब्‍दुल हमीद अमेरिका के तीन अजेय पैटर्न टैंक को अपनी जान की बाजी लगाकर ध्‍वस्‍त कर दिया था।

पीएम नरेंद्र मोदी से लेकर देश में सेना के शीर्ष अधिकारियों के बीच उनकी विशेष पहचान थी। देश में भारतीय सेना से जुड़े आयोजनों में भी उनको बुलाया जाता रहा है। गाजीपुर जिले में भी अब्‍दुल हमीद की स्‍मृतियों को सहेजने के लिए उनके प्रयासों की लोग मुक्‍तकंठ प्रशंसा करते रहे हैं। वीर अब्‍दुल हमीद की ही प्रेरणा से आज पूर्वांचल में गाजीपुर जिले से अमूमन हर दूसरे घर से भारतीय सेना में युवक अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

जनवरी 2017 में नए आर्मी चीफ बनने के बाद शहीद की धर्मपत्नी रसूलन बीबी आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत से मिली थीं और ये आग्रह किया था कि उनके जीते जी वो एक बार शहीद को श्रद्धांजलि देने के लिए उनके मेमोरियल आएं। हर साल 10 सितम्बर को शहीद अब्दुल हमीद का परिवार उनके लिए एक सभा का आयोजन करता है। शहीद परमवीर चक्र अब्दुल हमीद की पत्नी की वृद्धावस्था को देखते हुए जनरल रावत ने खुद गाजीपुर जाने का फैसला किया।


नोट : रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें एंड्राइड ऐप अपने मोबाइल पर, आप हमें फेसबुक पर भी लाइक कर सकते है |