Friday , July 3 2020

जीवन में डर पर कैसे पाएं काबू, जानें ये चार बातें बनाएंगी आपको निडर

जीवन में हर किसी को कभी न कभी डर लगता ही है, ऐसे में डर को स्वीकार करने में कोई बुराई या शर्म नहीं है लेकिन इसे दूर करने का प्रयास भी न करना बुरा है। ऐसे में आपको जीवन में कभी डर लगे, तो आप कुछ बातों को सोचकर डर की स्थिति से बाहर निकल सकते हैं।
डर का कारण जानकर उसे दूर करें:
सबसे अहम यह है कि जब भी आपको डर लगे, तो खुद से सवाल करें कि आपको वास्तव में किस बात से डर लग रहा है? ऐसे में आप महसूस करेंगे कि डर की असली वजह पता होने पर आपका डर काफी हद तक कम हो जाएगा।
डर भगाने के लिए ‘इमेजिनेशन थेरेपी’ का करें इस्तेमाल:
आपको जिस भी चीज से डर लगता है उसकी सकारात्मक कल्पना करें। जैसे, अगर आपको तैरने से डर लगता है, तो इमेजिन करें कि आप नदी में खुशी-खुशी तैर रहे हैं। वहीं, अगर आपको जीवन में किसी से बिछड़ जाने का डर लग रहा है, तो सोचें कि आप उस व्यक्ति के साथ खुश हैं और वो आपके साथ हर पल साथ रहने का वादा कर रहा है।
आरम्भ नहीं, अंत के बारे में सोचें:
जब भी आपको किसी चीज के खोने या हारने का डर लगे, तो सोचें कि ऐसा अगर हो भी जाता है, तो इसका अंत क्या होगा? क्या आपका जीवन इससे चल नहीं पाएगा? ऐसे विचार लाकर आप जीवन के सत्य को जानते हुए डर को दूर कर पाएंगे।
सबसे बुरा दिन सोचें:
आपको जब भी डर लगे, तो अभी तक अपना सबसे बुरा दिन सोचें। खुद से सवाल पूछें कि आपने जब वो बुरा दिन काट लिया, तो आप जीवन में कुछ भी कर सकते हैं और कोई भी स्थिति आपको डरा नहीं सकती।