Friday , July 3 2020

पालक एक दवा की तरह करता हैं कार्य,जानें कैसे

पालक की सब्जी खाना स्वास्थ्य के लिए सबसे बेहतर माना जाता है, क्योंकि पालक में आयरन काफी मात्रा में पाया जाता है। आयरन का महत्व इसलिए है क्योंकि यह लाल रक्त कणिकाओं को बढ़ाता है और यह शरीर के हर अंग तक ऑक्सीजन पहुंचाता है, जिससे शरीर का हर अंग ठीक तरह से कार्य करने में सक्षम होता है। यही नहीं पालक एक दवा की तरह कार्य करता है, कैसे आइए जानते हैं –
खून की कमी दूर करता है :
डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार, पालक में भरपूर मात्रा में आयरन होने के कारण इसके सेवन से शरीर में खून की कमी दूर होती है। जो लोग एनीमिया से ग्रसित हैं, उन्हें अपने भोजन में पालक को जरूर ही शामिल करना चाहिए।
डायबिटीज के लिए फायदेमंद :
पालक में कैलोरी काफी कम मात्रा में होती है, इसलिए डायबिटिक मरीजों पर इसका कोई बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है। इसके अलावा पालक में कुछ ऐसे तत्व होते हैं, जो रक्त में ग्लूकोज की मात्रा को नियंत्रित करते हैं, जिससे शुगर लेवल नहीं बढ़ता है।
गर्भवती महिलाओं के लिए सेहतमंद :
गर्भवती महिलाओं को अपने शुरुआती गर्भावस्था के दौरान आयरन की कमी होती है, इसलिए गर्भवती महिलाओं को नियमित रूप से पालक का सेवन करते रहना चाहिए। गर्भ में जब भ्रूण विकसित होता है, तो उसके निर्माण में भी शरीर को रक्त की आवश्यकता होती है, ऐसे में शरीर में लाल रक्त कणिकाओं के निर्माण में पालक अहम भूमिका निभाता है।
शरीर की मजबूती में सहायक :
पालक में फ्लेवोनॉइड एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं, जिससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। इसके अलावा हृदय संबंधित रोगों से लड़ने में भी यह तत्व सहायक होता हैं। पालक में बीटा कैरोटीन और विटामिन सी भी पाया जाता है, जो शरीर में होने वाली किसी भी क्षति से बचाता है।
पाचन शक्ति को बनाता है मजबूत :
पालक में भरपूर मात्रा में फाइबर पाया जाता है, जो पाचन तंत्र को ठीक करने में सहायक होता है। यदि किसी व्यक्ति को कब्ज की समस्या हो तो उन्हें पालक को उबालकर उसमें 100 मिलीलीटर पानी डालकर पीने से यह समस्या ठीक होती है। डॉ. नेहा सूर्यवंशी के अनुसार, पालक वजन कम करने में भी सहायक है। जिन्हें वजन कम करना है, वे पालक के व्यंजन बनाकर खा सकते हैं।
बालों को झड़ने से रोकता है पालक :
पालक में आयरन और विटामिन सी होने के कारण इसके सेवन से बाल झड़ने जैसी समस्याएं दूर हो जाती हैं। एनीमिया से ग्रसित लोगों को बाल झड़ने जैसी समस्या अधिक होती है, इसलिए उन्हें पालक का भरपूर मात्रा में सेवन करना चाहिए।
त्वचा के लिए भी फायदेमंद :
पालक में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट शरीर के टॉक्सिन को दूर कर शरीर की सफाई करते हैं, जिससे खून साफ होने के कारण त्वचा के दाग-धब्बे व मुंहासे दूर होते हैं और त्वचा निखरती है।
मांसपेशियों को मजबूत बनाए :
मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए पालक को अपने भोजन में जरूर शामिल करें। एक शोध के अनुसार पालक में कुछ अजैविक नाइट्रेट होते है, जो मांसपेशियों को मजबूत बनाते हैं।
अर्थराइटिस से जुड़ी समस्या में लाभकारी :
अर्थराइटिस बीमारी में शरीर के जोड़ों से संबंधित बीमारी होती है, जिसमें व्यक्ति के जोड़ों में सूजन और दर्द महसूस होता है। अर्थराइटिस के मरीजों को पालक, टमाटर और ककड़ी का सलाद बनाकर रोज खाना चाहिए, इससे उनकी समस्या में राहत मिलेगी।
दिल के रोगों में लाभ :
आधा चम्मच चोलाई का रस, एक चम्मच पालक का रस और एक चम्मच नींबू का रस मिलाकर सुबह खाली पेट नियमित रूप से पीने से दिल की सभी बीमारियों में लाभ होता है।