Friday , September 25 2020

रिया चक्रवर्ती ड्रग्स केस : शोविक के बचपन का दोस्त ड्रग पैडलर सूर्यदीप मल्हौत्रा एनसीबी की हिरासत में

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत मामले की जांच में ड्रग्स एंगल की पड़ताल कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) की छापेमारी जारी है । आज एनसीबी की टीम ड्रग पैडलर सूर्यदीप मल्हौत्रा के घर पर सुबह से छापेमारी कर रही है । सूर्यदीप, रिया चक्रवर्ती के भाई शोविक का स्कूल फ्रेंड है और उसके कई चैट सामने आए हैं । हिरासत में लिए गए सूर्यदीप को थोड़ी देर में एनसीबी दफ्तर लाया जा सकता है।
बताया जा रहा है कि सूर्यदीप मल्हौत्रा, शोविक चक्रवर्ती के बचपन का दोस्त है और 10 अक्टूबर 2019 के चैट में शोविक ड्रग्स के लिए अपने एक दोस्त को सूर्यदीप का नाम रेफेर कर रहा है। सूर्यदिप रेग्युराली केपरी हाइट और बाद में मोंट ब्लेंक बिल्डिंग में जाया करता था और शॉविक को हाई एंड ड्रग पार्टी में भी सूर्यदीप कई बार ले गया है । सूर्यदीप के संपर्क में बांद्रा से वर्सोवा तक के कई यंग ड्रग पेडलर्स संपर्क में थे ।
बताया जा रहा है कि सूर्यदीप मल्हौत्रा का घर मुंबई के बेहद पॉश वर्ली इलाके के गोदावरी अपार्टमेंट में है । सुबह 6 बजे मुंबई एनसीबी की टीम घर में घुसी और सर्च ऑपरेशन चलाया। उसके बाद सुर्यदीप को लेकर एनसीबी की टीम निकल गई ।अपार्टमेंट के बाहर मुंबई पुलिस की 2 पीसीआर वैन भी तैनात है।
वहीं, रिया चक्रवर्ती और बॉलीवुड ड्रग्स कनेक्शन में पकड़े सात ड्रग्स पैडलरों को आज ACMM कोर्ट में पेश किया जाएगा। सभी आरोपियों को मेडिकल टेस्ट के लिए ले जाया जा रहा है । सात में से एक आरोपी गोवा से गिरफ्तार हुआ था । जिन लोगों की पेशी है उनके नाम हैं- करमजीत सिंह आनंद उर्फ केजे, ड्वैन फर्नांडीस, संकेत पटेल, अंकुश अरजेंका, संदीप गुप्ता, आफताब फतेह अंसारी और क्रिस कोस्टा ।
सबसे अहम गिरफ्तारी हुई ड्रग पेडलर केजे उर्फ करमजीत की ।23 साल के केजे से गांजा और चरस मिला । दादर से एंथोनी समेत दो ड्रग पेडलर पकड़े गए ।इनसे भी आधा किलो गांजा मिला। पवई से अंकुश अरनेजा को दबोचा गया, जो केजे से ड्रग्स लेता था । गोवा से क्रिश कोस्टा पकड़ा गया। इन गिरफ्तारियों के बाद ड्रग कनेक्शन की तस्वीर काफी कुछ साफ होती जा रही है।
ड्रग रैकेट चार बडे़ खिलाड़ी सामने आए हैं । करमजीत उर्फ केजे, जैद विलात्रा, अनुज केशवानी और अंकुश अरनेजा. करमजीत रैकेट का बड़ा खिलाड़ी था। उसने दस बार सैमुअल मिरांडा और दीपेश सावंत के जरिये सुशांत तक ड्रग पहुंचाई। शोविक के कुछ और राजदार भी कॉल डिटेल के आधार पर एनसीबी के रडार पर आ गए हैं।
केजे के जरिए सैमुअल मिरांडा और दीपेश सावंत को ड्रग्स मिलती थी । इसके बाद शोविक और रिया से होते हुए सुशांत तक। एंथनी भी कई बार दीपेश और मिरांडा को ड्रग देता था जो सुशांत तक पहंचती थी । पूरा रैकेट ये था कि क्रिस कोस्टा से ड्रग केसवानी तक आती थी. कैजान मिडिलमैन था । उससे ड्रग करमजीत को मिलती और फिर आगे जाती ।