Saturday , December 4 2021

अटारी-वाघा बॉर्डर पर दिखा दीपावली की मिठास, दोनों देशों के जवानों ने एक दूसरे को दी मिठाई

दीपावली खुशियों और रोशनी का त्योहार है । इस त्योहार पर दोस्त क्या और दुश्मन क्या । इसी के मद्देनजर अटारी-वाघा बॉर्डर पर बीएसएफ के जवानों और पाकिस्तानी रेंजर्स ने एक-दूसरे को मिठाइयां दीं। दिवाली के मौके पर अकसर दोनों देशों के बॉर्डर पर तैनात सैनिक एक-दूसरे को मिठाई देते हैं । इसके अलावा भारत-बांग्लादेश अंतराष्ट्रीय सीमा पर भी सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) और बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) ने एक-दूसरे को मिठाइयां दीं । इस मौके पर गुवाहाटी फ्रंटियर (बीएसएफ) ने आधिकारिक हैंडल से ट्वीट कर लिखा, दिवाली के शुभ अवसर पर बीएसएफ के गुवाहाटी फ्रंटियर ने बॉर्डर गार्ड्स बांग्लादेश के साथ भारत-बांग्लादेश बॉर्डर पर मिठाइयों का आदान-प्रदान किया । ऐसे जश्न अकसर दोनों देशों के बीच मजबूत रिश्तों को दर्शाते हैं। बीएसएफ ने भी इस मौके पर सभी नागरिकों को दिवाली की शुभकामनाएं दी हैं। साथ ही कहा है कि बॉर्डर पर हमारी पैनी नजर है ।
इससे पहले गुरुवार को पीएम नरेंद्र मोदी सैनिकों के साथ हर साल की तरह दिवाली मनाने पहुंचे । पीएम मोदी जम्मू-कश्मीर के नौशेरा पहुंचे जहां उन्होंने जवानों को मिठाइयां खिलाईं और संबोधित भी किया। जवानों से पीएम मोदी ने कहा कि मैं एक परिवार के सदस्य के तौर पर आया हूं और 130 करोड़ भारतीयों की शुभकामनाएं लाया हूं। पीएम ने जवानों से कहा कि आप हमारे परिवार जैसे हैं और हर साल जवानों के बीच ही दिवाली मनाते आया हूं । उन्होंने कहा कि आपसे एक नई ऊर्जा लेकर जाऊंगा । पीएम मोदी ने कहा कि देश की सेवा का सौभाग्य सबको नहीं मिलता है। उन्होंने जवानों से कहा कि मैं ऐसा महसूस कर रहा हूं, आपके चेहरे के मजबूत भावों को देख रहा हूं कि आप संकल्पों से भरे हुए हैं और यह संकल्प और पराक्रम की भावनाएं मां भारती का जीता-जागता सुरक्षा कवच हैं।
पीएम मोदी ने कहा कि जब नौशेरा की धरती पर उतरा तो एक अलग ही रोमांच से मेरा मन भर गया। उन्होंने कहा कि यहां का वर्तमान आप जैसे वीर जवानों की वीरता का जीता जागता उदाहरण है । उन्होंने कहा कि नौशेरा के शेरों ने हमेशा दुश्मनों को करारा जवाब दिया है। पीएम मोदी ने कहा कि सर्जिकल स्ट्राइक में नौशेरा की अहम भूमिका रही । पीएम मोदी ने कहा कि कितने ही वीरों ने नौशेरा की धरती पर अपने रक्त और पुरुषार्थ से वीरता की गाथा लिखी है ।