Tuesday , April 20 2021

धर्म-कर्म

चैत्र नवरात्र: सातवें दिन मां कालरात्रि की होती हैं उपासना

चैत्र नवरात्र में सातवें दिन मां कालरात्रि की उपासना का विधान है। इस दिन साधक का मन ‘सहस्रार’ चक्र में स्थित रहता है। मां कालरात्रि को काली, महाकाली, भद्रकाली, रौद्री आदि नामों से जाना जाता है। देवी मां की उपासना से नकारात्मक शक्तियों का नाश होता है। माता की कृपा …

Read More »

चैत्र नवरात्रि: छठवां दिन है मां कात्यायनी को समर्पित, विधि विधान से पूजा करने से होती हैं मनोकामना पूरी, जानें

चैत्र नवरात्रि का छठवां दिन है मां कात्यायनी को समर्पित है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, मां कात्यायनी की विधि-विधान से पूजा करने से भक्त की सभी मनोकामनाएं पूरी होती है। इसके अलावा मां कात्यायनी विवाह में आने वाली परेशानियों को भी दूर करती हैं। पौराणिक कथाओं के अनुसार, मां कात्यायनी …

Read More »

चैत्र नवरात्रि: पांचवें दिन मां स्कंदमाता की जाती हैं उपासना, मां की कृपा से मूढ़ भी हो जाते हैं ज्ञानी

चैत्र नवरात्रि में पांचवें दिन मां स्कंदमाता की उपासना की जाती है। भगवान स्कंद की माता होने के कारण मां के स्वरूप को स्कंदमाता नाम से जाना जाता है। मां कमल के आसन पर विराजमान हैं। मां स्कंदमाता मोक्ष के द्वार खोलने वाली हैं और अपने भक्तों की समस्त इच्छाओं …

Read More »

चैत्र नवरात्रि के चौथे दिन होती है मां कूष्मांडा की होती हैं पूजा, जानें विधि, मंत्र, भोग और आरती

चैत्र नवरात्रि के दौरान मां के नौ रूपों की विधि- विधान से पूजा- अर्चना की जाती है। नवरात्रि के चौथे दिन मां के चौथे स्वरूप माता कूष्मांडा की पूजा की जाती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार माता कूष्मांडा ने ही ब्रहांड की रचना की थी। इन्हें सृष्टि की आदि- स्वरूप, …

Read More »

चैत्र नवरात्र में तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की होती हैं उपासना, निर्भय हो जाते हैं भक्त

चैत्र नवरात्र में तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की उपासना की जाती है। मां अपने ललाट पर घंटे के आकर का अर्धचंद्र धारण करती हैं। इसी कारण मां को चंद्रघंटा कहा जाता है। उन्होंने असुरों का नाश करने के लिए इस स्वरूप को धारण किया। मां की कृपा से साधक को …

Read More »

चैत्र नवरात्र में दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की जाती हैं उपासना

नवरात्र में दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की उपासना की जाती है। ब्रह्म का अर्थ है तपस्या और चारिणी यानी आचरण करने वाली। मां ब्रह्मचारिणी की उपासना से तप, त्याग, वैराग्य, सदाचार, संयम में वृद्धि होती है। जीवन की कठिन समय में मां का ध्यान करने से मन कर्तव्य पथ से …

Read More »

चैत्र नवरात्रि: पहले दिन मां शैलपुत्री की विधि-विधान से पूजा करने से होती हैं मनोकामनाएं

चैत्र नवरात्रि 13 अप्रैल, मंगलवार से शुरू हो गए हैं। नवरात्रि का पहला दिन मां दुर्गा के शैलपुत्री स्वरूप को समर्पित है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, पर्वतराज हिमालय के घर पुत्री रूप में जन्म लेने के कारण इनका नाम शैलपुत्री पड़ा। नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की विधि-विधान से …

Read More »

सोमवती अमावस्या का उपवास रखने सर सारी पूर्ण होती हैं मनोकामनाएं

आज हैं सोमवती अमावस्या । इसे चैत्र अमावस्या के रूप में भी जाना जाता है। यह बेहद शुभ दिन माना जाता है। इस अमावस्या का विशेष महत्व है। इस दिन भगवान शिवशंकर, माता पार्वती, भगवान श्रीगणेश और कार्तिकेय की पूजा की जाती है। इस दिन शिवलिंग का जलाभिषेक अवश्य करना …

Read More »

चैत्र नवरात्रि: घटस्थापना, जानिए चैत्र नवरात्रि के पहले दिन पूजा के शुभ मुहूर्त

मां दुर्गा की उपासना का पर्व नवरात्रि 13 अप्रैल से शुरू होने वाले हैं। चैत्र नवरात्रि का 22 अप्रैल को समापन होगा। हिंदू पंचांग के अनुसार, नवरात्रि के साथ ही हिंदू नववर्ष की शुरुआत भी होगी। नवरात्रि के नौ दिनों तक मां दुर्गा के अलग-अलग स्वरूप की उपासना की जाती …

Read More »

आइए जानते हैं सोमवती अमावस्या शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और महत्व

हिंदू मान्यताओं के अनुसार सोमवती अमावस्या का बहुत अधिक महत्व होता है। सोमवार को पड़ने वाली अमावस्या को सोमवती अमावस्या के नाम से जाना जाता है। इस बार 12 अप्रैल 2021, को सोमवती अमावस्या पड़ रही है। साल 2021 में पड़ने वाली ये पहली और अंतिम सोमवती अमावस्या है। हिंदू …

Read More »