Sunday , June 20 2021

सुस्ती और थकान के लिए सुपर फूड्स अपनी डाइट में जरूर करें शामिल, मिलेगी एनर्जी

कभी-कभी ऐसा होता है कि पूरी नींद लेने के बाद भी पूरे दिन सुस्ती चढ़ी रहती है। बहुत कोशिशों के बाद भी हम फ्रेश फील नहीं कर पाते। खासतौर पर वर्क फ्रॉम होम के दौरान लोग सुस्ती और थकान फील करते हैं। इसके अलावा काम के दौरान कई बार मूड अलग-अलग कारणों से खराब हो जाता है और जब तक मूड ठीक नहीं हो जाता है, तब तक किसी भी काम में मन नहीं लगता है। इस मामले में चॉकलेट एक अच्छा विकल्प है। अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो आपको कुछ सुपर फूड्स अपनी डाइट में जरूर शामिल करने चाहिए।
दही:
दही में कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन जैसे कारक होते हैं। वे ऊर्जा के प्रभावी स्रोत हैं। इसके कारण शरीर में ऊर्जा का आदान-प्रदान होता है। खासतौर पर बिना क्रीम वाले दही का सेवन करने से यह थकान और सुस्ती को दूर करता है।
सौंफ:
सौंफ को केवल रसोई के मसाले और माउथ फ्रेशनर के रूप में जानते हैं लेकिन इसके अलावा, इनमें और भी कई गुण छिपे हुए हैं। सौंफ में आयरन, कैल्शियम, सोडियम और पोटेशियम होता है, जो शरीर की सुस्ती को दूर करने में मदद करता है।
ग्रीन-टी:
कई बार ज्यादा काम करने पर तनाव और थकान दोनों का सामना करना पड़ता है। अगर ऐसा होता है तो इस दौरान ग्रीन टी का सेवन करना चाहिए। ग्रीन टी न केवल शरीर को ऊर्जा देती है, बल्कि यह एकाग्रता को बढ़ाने में भी मदद करती है।

ओटमील:
ओटमील कार्बोहाइड्रेट और ग्लाइकोजन में समृद्ध है। इसे खाने से पूरे दिन शरीर में ऊर्जा का अनुभव होता है। यह एक पौष्टिक आहार है और शरीर के लिए फायदेमंद है।
पानी, जूस:
यदि शरीर में पानी की कमी है, तो सुस्ती भी होती है। बेहतर होगा कि थोड़े-थोड़े अंतराल पर जूस, पानी और अन्य पेय पदार्थों का सेवन करते रहें।
चॉकलेट:
चॉकलेट में मौजूद कोको शरीर की मांसपेशियों को आराम देता है और तरोताजा करता है। फैटी एसिड जैसे स्टैरिकिक एसिड और पाल्मिक एसिड और ओलिक एसिड कोलेस्ट्रॉल जमा होने के जोखिम के बिना, वजन को कम करके ऊर्जा प्रदान करते हैं। चॉकलेट में चीनी भी ऊर्जा और शरीर को आराम देती है।