Sunday , June 20 2021

तेजस्वी यादव के प्रेसकांफ्रेस के बाद आया जेडीयू प्रवक्ता का बयान- रस्सी जल गई, लेकिन ऐंठन अब भी बाकी है

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बुधवार को पीसी की। इस दौरान उन्होंने सीएम नीतीश पर जमकर निशाना साधा । हालांकि, प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिए गए अपने बयानों की वजह से वो जेडीयू नेताओं के निशाने पर आ गए हैं । एक के बाद एक जेडीयू नेता उनपर निशाना साध रहे हैं । इसी क्रम में जेडीयू मुख्य प्रवक्ता और विधान पार्षद संजय सिंह ने बयान जारी करते हुए कहा कि रस्सी जल गई, लेकिन ऐंठन अब भी बाकी है । विपक्ष की सवर्ण विरोधी मानसिकता नहीं बदली है।
उन्होंने तेजस्वी यादव से कहा, “अहंकार से कभी इंसान का भला नहीं होता। रावण का अहंकार नहीं बचा तो आपका घमंड कैसे टिकेगा? मधुबनी के महम्मदपुर की घटना एक नृशंस अपराध है । हत्यारों को उनके अपराध की सजा मिलनी चाहिए और आज उनकी गिरफ्तारी भी हो गई है । लेकिन आपको यह लगता है कि इस घटना के बाद पुलिस प्रशासन की तरफ से की गई कार्रवाई आपके बूते है, तो किस मुगालते में जी रहे हैं आप?”
उन्होंने कहा, “तेजस्वी जी, राजनीति में आए आपको अब अच्छा वक्त हो चुका है, बावजूद इसके आप अबतक ट्विटर बॉय बने बैठे हैं । मौका देखा नहीं कि मीडिया को बुलाकर बयान देने लगते हैं । मधुबनी के घटना के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने तुरंत दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया था और आज उनकी गिरफ्तारी भी पुलिस ने कर ली । नेता प्रतिपक्ष आप हर मसले पर राजनीतिक रोटी सेंकना चाहते हैं, लेकिन जनता आपको भली भांति पहचान चुकी है।”
जेडीयू एमएलसी ने कहा, “तेजस्वी, आप आज मधुबनी की घटना पर घड़ियाली आंसू बहाते हुए आरोपियों की गिरफ्तारी पर श्रेय लेने का प्रयास कर रहे हैं । अपनी पीठ खुद थपथपा रहे हैं, लेकिन जनता बोलने वाले और काम करने वाले का फर्क जानती है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काम करने में विश्वास रखते हैं। उनकी नीति की ही देन है कि आज आरोपी को सजा मिलती है।”